Vijay Devarakonda Biography Hindi – विजय देवरकोंडा की जीवनी

Vijay Devarakonda Biography Hindi – विजय देवरकोंडा की जीवनी – यह एक भारतीय फिल्म अभिनेता है. इसके साथ यह फिल्म निर्माता और मीडिया के व्यक्ति है जो मुख्य रूप से तेलुगु सिनेमा में अपने कार्यों के लिए जाने जाते हैं.

उन्होंने अपने फिल्मी कैरियर की शुरुआत वर्ष 2011 में की थी जिसमें वे रवि बाबू की रोमांटिक कॉमेडी मूवी नुविला मे नजर आए थे. लेकिन उन्होंने अपनी एक अलग ही पहचान यावेव सुब्रमण्यम फिल्म जो 2015 में आई थी उस में सहायक की भूमिका निभाई थी उनके अभिनय की लोगों ने काफी तारीफ की थी. इस फिल्म से विजय देवरकोंडा लाइम लाइट में आए थे. विजय देवरकोंडा ने वर्ष 2016 में रोमांटिक कॉमेडी तेलुगु फिल्म ‘पेली चोपुलु’ मे मुख्य भूमिका निभाई थी इसलिए मैंने स्टारडम का लाभ उठाया जिसने तेलुगु में सर्वश्रेष्ठ फीचर फिल्म का राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार और सर्वश्रेष्ठ फिल्म तेलुगु के लिए फिल्म फेयर अवार्ड जीता था.

आज के हमारे इस लेख में आइए नजर डालते हैं. Vijay Devarakonda Biography Hindi – विजय देवरकोंडा की जीवनी

Vijay Devarakonda Biography Hindi – विजय देवरकोंडा की जीवनी

विजय साईं देवरकोंडा का जन्म 9 मई, वर्ष 1989 को आचपेट, तेलंगाना भारत में हुआ था. इनके पिता का नाम देवरकोंडा गोवर्धन राव है जो कि एक प्रसिद्ध अभिनेता और टेलीविजन अभिनेता और विज्ञापन निर्देशक हैं. इनकी माता का नाम माधवी देवरकोंडा है. विजय के एक छोटे भाई भी हैं जो फिल्मों में काम करते हैं और वह भी एक अभिनेता हैं.

विजय देवरकोंडा की आरंभिक जीवन और शिक्षा

विजय देवरकोंडा ने अपनी प्रारंभिक शिक्षा पुट्टापर्थी के श्री सत्य साईं हायर सेकेंडरी स्कूल जाने से पहले हैदराबाद के सौर नगर में ईटन टेंपल हाई स्कूल से प्राप्त की है.

विजय देवरकोंडा को बचपन से ही अभिनय और मॉडलिंग का काफी शौक था. यह अपने आरंभिक शिक्षा लेने के लिए अपने घर परिवार से दूर, अपनी स्कूलिंग इन्होंने बिताई है. अपनी स्कूलिंग पूरी होने के बाद इन्होंने बदरुका कॉलेज ऑफ कॉमर्स हैदराबाद से अपना स्नातक डिग्री पूरा किया है.

अपनी स्नातक की डिग्री पूरी करने के बाद विजय देवरकोंडा ने थिएटर में काम करना शुरू किया था. इसी के बाद उन्हें तेलुगू फिल्म जो वर्ष 2011 में रवि बाबू की रोमांटिक कॉमेडी फिल्म “नुव्विला” मे काम करने का मौका मिला. इस फिल्म में इन्होंने एक प्रसिद्ध क्रिकेटर का भूमिका निभाया था. विजय देवरकोंडा किया पहली डेब्यू फिल्म थी.

इसके बाद विजय देवरकोंडा को सुब्रमण्यम द्वारा एक मूवी वर्ष 2015 में ” यवदे सुब्रमण्यम” करने का मौका मिला जिसमें उन्होंने एक सहायक भूमिका के लिए काम किया था. इस फिल्म में विजय देवरकोंडा ने एक अध्यात्मिक युवा की भूमिका निभाई थी. इस फिल्म के बाद में विजय देवरकोंडा को तेलुगू फिल्मों में एक जाना माना चेहरा बना दिया और मुख्य भूमिकाओं में अभिनय करने का रास्ता खोल दिया था.

आइए एक नजर डालते हैं विजय देवरकोंडा के संक्षिप्त जीवन पर.

विजय देवरकोंडा का संक्षिप्त जीवन परिचय

विजय देवरकोंडा का संक्षिप्त जीवन परिचय - Short Biography of Vijay Devarakonda
पूरा नाम - विजय साईं देवरकोंडा
उपनाम - विजय
जन्मतिथि - 9 मई, 1989
जन्म स्थान - अचम्पेट, तेलंगाना भारत
पिता का नाम - गोवर्धन राव देवरकोंडा
माता का नाम - माधवी देवरकोंडा
भाई बहन - इनका एक भाई है जिसका नाम आनंद देवरकोंडा है
पेशा - अभिनेता, फिल्म निर्माता और बिजनेसमैन
राष्ट्रीयता - भारतीय
प्रारंभिक शिक्षा - श्री सत्य साईं हायर सेकेंडरी स्कूल पुत्तापार्थी अनंतपुर
कॉलेज - बदरुका कॉलेज ऑफ कॉमर्स हैदराबाद
शैक्षणिक योग्यता - स्नातक की डिग्री कॉमर्स में
विजय देवरकोंडा की लंबाई - लगभग 6 फीट, 182 सेंटीमीटर
कुल संपत्ति - लगभग 20 करोड
अभय भाई की स्थिति - अविवाहित

विजय देवरकोंडा की पिता गोवर्धन राव देवरकोंडा फिल्मों में काम कर चुके हैं. इस चलते बेटे विजय देवरकोंडा को फिल्मों में आने के लिए उतना ज्यादा संघर्ष नहीं करना पड़ा था. अपने पिता के प्राण उन्होंने कैमरे के सामने अपने प्यार को पाया और जल्द ही इस पैसे को जुनून के साथ पालना शुरू कर दिया. अभिनेता के परिवार से संबंधित होने के कारण देवरकोंडा ने अतिरिक्त बढ़त दी, कोई भी इसके लिए निहित स्वाभाव और कौशल से इनकार नहीं कर सकता था.

रंगमंच में अपना स्थान बनाने के बाद, विजय देवरकोंडा ने जल्द ही बड़े पर्दे का विकल्प चुना था. अपनी छोटी भूमिका के बाद, विजय देवरकोंडा की बड़ी सफलता सुब्रमण्यम फिल्म से आई थी. वर्ष 2015 की ब्लॉकबस्टर के बाद से, देवरकोंडा को कोई रोक नहीं पाया है जिसने बॉक्स ऑफिस पर एक के बाद एक हिट फिल्में दी है. वह तेलुगू फिल्म उद्योग के दिल की धड़कन है और उनके लिए सब कुछ है.

विजय देवरकोंडा तेलुगू फिल्म इंडस्ट्री के सबसे प्रतिभाशाली और डायनामिक अभिनेता में गिने जाते हैं. अपने खून से अभिनय से उनके पिता देवरकोंडा गोवर्धनराम अभिनेता होने के नाते जीत के रूप में काम करने के लिए बाध्य थे. उन्होंने क्षेत्र समूह नेम आधार में एक संक्षिप्त कार्यालय के साथ शुरुआत की, जो अनिवार्य रूप से हैदराबाद से बाहर था और जल्दी ही 4 महीनों की कार्यशाला के साथ पीछा किया गया था।

विजय देवरकोंडा को मिले पुरस्कार एवं सम्मान

  • वर्ष 2015 में नंदी पुरस्कार विशेष ज्यूरी पुरस्कार तेलुगु फिल्म यवेदु सुब्रमण्यम के लिए
  • वर्ष 2017 में फिल्म फेयर पुरस्कार दक्षिण सर्वश्रेष्ठ अभिनेता फिल्म तेलुगू अर्जुन रेड्डी के लिए
  • वर्ष 2018 में, ज़ी तेलुगू गोल्डन अवॉर्ड सर्वश्रेष्ठ अभिनेता अर्जुन रेड्डी के लिए
  • वर्ष 2019 में, श्रीकला सुधार तेलुगू एसोसिएशन पुरस्कार सर्वश्रेष्ठ अभिनेता गीता गोविंद फिल्म के लिए.
  • वर्ष 2019 में ही ज़ी तेलुगू गोल्डन अवार्ड पसंदीदा अभिनेता फिल्म गीता गोविंद के लिए
  • वर्ष 2019 में ही श्यामक फिल्म पुरस्कार सर्वश्रेष्ठ अभिनेता आलोचक तेलुगू फिल्म गीता गोविंदम के लिए
  • वर्ष 2019 में ही श्यामा फिल्म पुरस्कार सोशल मीडिया लोकप्रिय सेलिब्रिटी फिल्म गीता गोविंदम के लिए.
  • 11 फरवरी 2020 को विजय देवरकोंडा ई-कॉमर्स पोर्टल मिंत्रा पर अपना फैशन ब्रांड ‘राउडी वेयर’ लांच किया था. इसी के साथ ही वे जोमैटो एप के ब्रांड एंबेसडर भी है.

विजय देवरकोंडा से जुड़ी रोचक बातें

  1. विजय देवरकोंडा तेलुगु टेलीविजन निर्देशक के पुत्र हैं. उनके पिता एक अभिनेता और टेलीविजन अभिनेता है. इस चलते विजय देवरकोंडा को बचपन से ही टेलीविजन की तरफ काफी झुकाव था.
  2. उनको कहानियां लिखने का बहुत शौक था. जब भी चौथी कक्षा में थे उन्होंने कहानियां लिखना शुरू किया था.
  3. उन्होंने अपने आरंभिक शिक्षा अपने परिवार से दूर रहकर आंध्र प्रदेश के एक बोर्डिंग स्कूल श्री सत्य साईं हायर सेकेंडरी स्कूल से पूरी की है.
  4. उन्होंने अपनी स्नातक की पढ़ाई करने के बाद हैदराबाद में थिएटर ग्रुप में शामिल हो गए और यहीं से उनका सुनहरा सफर शुरू हुआ.
  5. इन्होंने 3 महीने तक ट्रेनिंग ली और वर्ष 2011 में अपनी पहली फिल्म ब्रेक पाने से पहले इन्होंने कई स्टेज शो में काम किया है.
  6. उनकी सफल फिल्म वर्ष 2015 में उन्होंने ड्रामा देव सुब्रमण्यम में निभाई थी. जिसमें उन्होंने पहली बार दर्शकों का ध्यान अपनी तरफ आकर्षित किया था.
  7. मुख्य अभिनेता के रूप में उनकी पहली फिल्म पेली चूपुलु आई थी और यह फिल्म तेलुगू में सर्वश्रेष्ठ फीचर फिल्म की 64 श्रेणियों में राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार जीतने के पसंद के लिए नॉमिनेशन किया गया था.
  8. इस फिल्म को करने के बाद में अभिनेता विजय देवरकोंडा रातों-रात सुपरस्टार बन गए थे.
  9. उनके इस फिल्म में भूमिका के लिए सर्वश्रेष्ठ अभिनेता तेलुगू के लिए फिल्म फेयर पुरस्कार भी मिला था.
  10. उनका दिल बहुत बड़ा माना जाता है उन्होंने एक बार अपने बर्थडे पर अपने फैंस के लिए तीन ट्रक भरकर के आइसक्रीम भिजवाए थे.
  11. इन्होंने ई-कॉमर्स वेबसाइट मिंत्रा पर अपनी क्लॉथ की ब्रांड ‘ दी रावडी क्लब’ लॉन्च किया है. अपनी क्लॉथ की ब्रांडिंग किस नाम से रखने के चलते इनके फ्रांस इन्हें दी रावडी कहकर भी बुलाते हैं.

Leave a Comment