What is Personal Computer – पर्सनल कंप्यूटर क्या है?

What is Personal Computer – पर्सनल कंप्यूटर क्या है? – एक ऐसी कंप्यूटर यंत्र है जो विशेष रूप से व्यक्तिगत अथवा छोटे समूहों के द्वारा प्रयोग में लाया जा सकता है. कंप्यूटर को बनाने के लिए माइक्रोप्रोसेसर का इस्तेमाल किया जाता है. यही बचा है कि इन कंप्यूटर को माइक्रो कंप्यूटर भी कहा जाता है.

पर्सनल कंप्यूटर का इस्तेमाल कुछ खास तरह के कार्यों को करने के लिए किया जाता है. जैसे उदाहरण के तौर पर – घरेलू कंप्यूटर तथा कार्यालय में प्रयोग किए जाने वाले कंप्यूटर इसके उदाहरण है. इनका उपयोग छोटे-मोटे उद्योग में, बाजार में, स्कूल कॉलेज, कार्यालय, कंपनी और बैंकों में योग में लाया जाता है.

What is Personal Computer – पर्सनल कंप्यूटर क्या है? इसके बारे में हम आज के हमारे इस लेख में विस्तार से जानकारी लेंगे.

What is Personal Computer – पर्सनल कंप्यूटर क्या है?

पर्सनल कंप्यूटर एक ऐसा यंत्र है जिसका इस्तेमाल हम अपने घर में कर सकते हैं. व्यक्तिगत तौर पर हम इसका उपयोग करते हैं इस चलते इसे पर्सनल कंप्यूटर या व्यक्तिगत कंप्यूटर भी कहा जाता है. पर्सनल कंप्यूटर को बनाने के लिए इसमें माइक्रो प्रोसेसर का इस्तेमाल किया जाता है. जिसके वजह से इसे माइक्रोकंप्यूटर भी कहते हैं.

पर्सनल कंप्यूटर से किए जाने वाले मुख्य कार्यों में है, ऑनलाइन गेम खेलना, इंटरनेट का प्रयोग, शब्द संसाधन ( वर्ड प्रोसेसिंग), गाने सुनना, और अन्य छोटे कार्य.

पहली बार पर्सनल कंप्यूटर वर्ष 1974 में विकसित किया गया था. लेकिन, वर्ष 1977 में पहला और सफल माइक्रो कंप्यूटर बनाया गया था. इस पर्सनल कंप्यूटर के साथ में पीसी विकसित हुई थी. एचपी का कंप्यूटर को बनाने का श्रेय तकनीशियन स्टीव बोजनाइक को जाता है.

पर्सनल कंप्यूटर की सहायता से हम कुछ व्यवस्था एक कार्य भी कर सकते हैं. जिसे हमने नीचे एक सारणी द्वारा बतलाया है.

पर्सनल कंप्यूटर के कुछ व्यवसायिक कार्य

पर्सनल कंप्यूटर के कुछ व्यावसायिक कार्य निम्नलिखित है :-

  1. कंप्यूटर द्वारा रूपरेखा तथा निर्माण (CAD and CAM)
  2. इन्वेंटरी तथा प्रोडक्शन कंट्रोल
  3. स्प्रेडशीट कार्य
  4. हिसाब किताब (Accounting)
  5. सॉफ्टवेयर निर्माण
  6. वेबसाइट डिजाइनिंग तथा निर्माण
  7. सांख्यिकी गणना, इत्यादि

पर्सनल कंप्यूटर के भाग – Parts of Personal Computer

आईबीएम द्वारा बनाए गए पहले सामान्य उद्देश्य, या व्यक्तिगत कंप्यूटर को IBM pc या पर्सनल कंप्यूटर कहा जाता था. यह कंप्यूटर एक माइक्रो प्रोसेसर तकनीक द्वारा बनाई जाती थी. जिस चलते इस तरह के कंप्यूटर को माइक्रोकंप्यूटर भी कहा जाने लगा. इस तरह के कंप्यूटर का इस्तेमाल करके कोई भी व्यक्ति द्वारा घर या कार्यालय में कंप्यूटर का इस्तेमाल कर सकता था. व्यक्तिगत कंप्यूटर के उदाहरण है , माइक्रो कंप्यूटर, डेस्कटॉप कंप्यूटर, लैपटॉप कंप्यूटर और टेबलेट.

किसी भी पर्सनल कंप्यूटर में निम्नलिखित भाग और पार्ट होते हैं:-

[su_box title=” पर्सनल कंप्यूटर के भाग ” style=”default” box_color=”#008000″ title_color=”#FFFFFF” radius=”3″ class=”” id=””] एक पर्सनल कंप्यूटर (PC) मे एक सेंट्रल प्रोसेसिंग यूनिट (CPU) होता है. जिसमें एकल (IC) एकत्रित सर्किट (Integrated Circuit) पर अंकगणित, तर्क और नियंत्रण सर्किट शामिल होती है. इसमें दो प्रकार की मेमोरी होती है पहला मुख्य मेमोरी इसके अंतर्गत RAM, और ROM, चुंबकिया हार्ड डिस्क (HDD) और कंपैक्ट डिस्क और विभिन्न इनपुट तथा आउटपुट डिवाइस, जिसमें एक डिस्प्ले स्क्रीन, कीबोर्ड और माउस, मॉडर्न और प्रिंटर शामिल होते हैं. [/su_box]

जब भी हमें से ज्यादातर लोग कंप्यूटर के बारे में सोचते हैं,. तो उनके जीवन में सबसे पहले व्यक्तिगत कंप्यूटर की तस्वीर ही आती है. इसे एक बार में उपयोग करने के लिए केवल एक ही व्यक्ति के लिए डिजाइन किया गया होता है. आपके और आपके मित्रों और परिवार के अधिकांश कंप्यूटर संभवत व्यक्तिगत कंप्यूटर या पर्सनल कंप्यूटर ही होंगे. पीसी शब्द का लोकप्रिय संस्कृति में अलग-अलग अर्थ होते हैं. एक तरफ इसका अर्थ व्यक्तिगत उपयोग से होता है. जिसे डिजाइन किया गया कोई भी कंप्यूटर हो सकती है. दूसरी ओर यह कभी-कभी विशेष रूप से माइक्रोसॉफ्ट विंडो चलाने वाले कंप्यूटर को संदर्भित करने के लिए उपयोग किया जाता है. जैसे कि Mac या PC.

Leave a Comment